एक ऐसा देश जहां लोगों का मरना मना है !

एक ऐसा देश जहां लोगों का मरना मना है !

एक ऐसा देश जहां लोगों का मरना मना है। आपने ऐसे कई जगहों  के बारे  में सुना ही होगा जहाँ काफी अजीब रश्में होती हैं लेकिन शायद कभी ऐसे जगह के बारे  में नहीं सुना होगा जहा मरना भी मना है। जैसा  की हम जानते  ही  हैं जीवन और मृत्यु भगवान्  के हाथों  में है और यह भी की मृत्यु  एक कड़वा सच है। जिसने  इस धरती  पर जन्म लिया  है उसे एक दिन मरना ही  पड़ता है।  लेकिन  आज  हम आपको बताएँगे  की दुनिया  में एक ऐसी  भी जगह है जहाँ मरने पर बेन  है यानि की मरना मना  है।  यह टाउन नॉर्वे  के बर्फीले इलाके  में बसा हुआ  है।  इस  जगह  का नाम  है लॉन्गायरबायेन , नॉर्वे के तटीय और उत्तरी ध्रुव के बीच एक द्वीप पर स्थित लोंगइअरेबीयन स्थित है और ठंड के मौसम में लगभग असहनीय रूप से कम तापमान ग्रस्त है।  यहाँ पर लोगों  को मरने से प्रतिबंधित कर दिया गया है, और यहाँ पर एक कब्रिस्तान भी है जहाँ पर पिछले 70 सालों से किसी को भी नहीं दफनाया गया दरशल  बात  यह है की यहाँ पर इतनी  ठण्ड  है की मरने  के बाद लोगों  को दफना  तो सकते  हैं परन्तु उनका शरीर ठण्ड और बर्फ के कारन कभी ख़राब नहीं  होता।  जिससे वहां  के लोगों  को परेशानी  का सामना करना पड़ता  है।  इसलिए सारे गाँव वालों  ने मिलकर यह युक्ति खोजी  की यहाँ पर लोग मरेंगे नहीं।

एक ऐसा देश जहां लोगों का मरना मना है !

मतलब अगर कोई मर  जाता  है तो  उसे  दूसरे सेहरों  में दफ़नाने  के लिए भेज  दिया जाता है।  क्योंकि  इस  जगह  पर ये संभव  नहीं  है  और यहाँ  पर बैज्ञानिको  ने एक  ऐसे मरे  हुए शरीर को रिसर्च के लिए निकला था और वह डेड  बॉडी  थी १९१७ सं  की।  यहाँ पर परमप्रॉस्ट ने शरीर को सामान्य अपघटन प्रक्रिया का पालन करने से रोक दिया था और इसके बजाय उन्हें पूरी तरह से संरक्षित रखा गया था।

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *